यौन संचारित रोगों (एसटीडी) की रोकथाम एसटीडी एक यौन संचारित रोग या संक्रमण है जो किसी व्यक्ति के साथ यौन संपर्क के दौरान फेलता है। एसटीडी या सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिसिज (यौन संचारित रोग/संक्रमण) हैं जो उन रोगाणुओं से होता है जो व्यक्ति की त्वचा पर या शरीर के तरल प्रदार्थ जैसे वीर्य, योनि का तरल प्रदार्थ या खून में रहते है, और यौन संपर्क द्वारा एक व्यक्ति से दूसरे में संचारित हो जाते है। इसके
सेक्सुअल परफार्मेंस की चिंता के कारण और ठीक करने के उपाय सेक्सुअल परफार्मेंस की चिंता आज के समय की एक सामान्य समस्या है। सेक्सुअल परफार्मेंस एंगजाटी या संभोग के दौरान साथी को खुश करने का हर इंसान के यौन जीवन पर गहरा प्रभाव डालता है जिसके कारण शारीरिक संबंध के बनाने के दौरान असहजता महसूस होने लगती है। संभोग प्रदर्शन के लेकर डर पुरुष और महिला दोनों को ही सताता है लेकिन जब आप सेक्स
लिंग (पेनिस) में दर्द के लक्षण, कारण ईलाज और बचाव किसी भी प्रकार से लिंग में दर्द उत्पन्न होना एक चिंता का विशय होता है। यदि किसी भी व्यक्ति के लिंग में दर्द होता है, तो दर्द के साथ साथ अन्य लक्षणों पर भी ध्यान देना महत्वपूर्ण होता है। लिंग में दर्द की समस्या यौन संक्रमण, मुत्रमार्गशोथ, मुत्रमार्ग संक्रमण या लिंग में चोट के लक्षण या संकेत के रुप में उत्पन्न हो सकती है। अतः
हस्तमैथुन से आई कमजोरी को दूर करने का उपाय हस्तमैथुन यौन क्रिया का एक हिस्सा हैं बहुत से लोग खासकर युवा वर्ग यौन सुख का अनुभव करने के लिये हस्तमैथुन करते हैं। कुछ मायनों में हस्तमैथुन फायदेमंद होता है। लेकिन अधिकांश लोगों के लिए यह यौन कमजोरी का कारण बन सकता है। यह यौन सुख पाने का अप्राकृतिक तरीका होता है। यदि लगातार या अधिक मात्रा में हस्तमैथुन किया जाता है तो इसके गंभीर दुष्प्रभाव
कई बार देखने को मिलता है की लोग अपने वैवाहिक जीवन में कई तरह की परेशानीयों का सामना करते है, यह भी देखने को मिलता है, की ज्यादातर मामलों में महिलाओं में ही शारीरिक संबंधों में रुचि कम हो जाती है या क्या हो सकती है इसकी वजह जानें क्यों होती है महिलाओं में यौन उत्तेजना की कमी, फर्जीडिटी या ठंडा हो जाना एक ऐसी अवस्था है जिसमें महिला यौन उत्तेजना हासिल करने में नाकाम